लड़कियों को खेती सीखने पर सरकार दे रही है 40 हजार, पूर्ण जानकारी ले

Written by Chirag Yadav

Published on:

सरकार की तरफ से कृषि को बढ़ावा देने के लिए किसानो को लगातार नई नई योजनाओ के तहत लाभ देती है। और इसकी लक्ष्य को आगे बढ़ाते हुए सरकार की तरफ से लड़कियों के लिए कृषि क्षेत्र में भागेदारी को बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। आइये जानते है पूरी स्कीम के बारे में ताकि लड़किया भी कृषि क्षेत्र से जुड़ कर योगदान दे सके

लड़कियों को मिलते है 40 हजार रूपये

राजस्थान राज्य सरकार की तरफ से खेती के लिए किसानो को हर संभव मदद की जाती है। और इसके लिए नई नई योजनाओ को चलाया जाता है जिसमे केंद्र और राज्य सरकार दोनों को योजनाओ का लाभ किसानो को दिया जाता है। सरकार की तरफ से अब युवाओ को भी कृषि क्षेत्रों में भागेदारी बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। खासकर उन बच्चो को तैयार किया जा रहा है जुंकी कृषि क्षेत्र में अधिक रूचि है और इसको ध्यान में रख कर सरकार की तरफ से लड़कियों के लिए खास योजनाओ को चलाया गया है जिसमे कृषि क्षेत्र में पढाई करने वाली छात्रा को अध्यन सरकार की तरफ से 40 लाख रूपये की राशि जारी की जाती है।

छात्रा को इस योजना का लाभ किस प्रकार से मिलता है

प्रदेश में पहले से ही इस योजना को चलाया जा रहा था लेकिन अब इस योजना के तहत राशि को बढ़ा दिया गया है। राजस्थान सरकार की तरफ से कृषि क्षेत्र में 11वी और 12वी की छात्राओं को पहले 5000 रु की राशि दी जाती थी लेकिन इसको सरकार की तरफ से बढाकर 15 हजार रूपये कर दिया गया है। जो छात्रा कृषि सब्जेक्ट से अध्यन कर रही है उनको इस योजना के तहत 15 हजार रूपये की राशि जारी की जाती है

  • जिन छात्राओं ने ग्रेजुएशन में कृषि सब्जेक्ट से दाखिला लिया है या फिर पोस्ट ग्रेजुएशन में कृषि सब्जेक्ट से एडमिशन लिया हुआ है उनको सरकार की तरफ से 25 हजार रूपये की राशि जारी की जाती है
  • जो छात्रा कृषि क्षेत्र में PHD कर रही है उनको सरकार की तरफ से 40 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि जारी की जाती है
  • राजस्थान सरकार की तरफ से कृषि क्षेत्र में छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए हर साल ये राशि जारी की जाती है और इसके लिए सरकार की तरफ से हर साल 50 करोड़ रूपये का बजट जारी किया जाता है

प्रोत्साहन राशि के लिए जरुरी पात्रता

कृषि क्षेत्र में मिलने वाली इस प्रोत्साहन राशि के लिए राजस्थान सरकार की तरफ से कुछ नियम निर्धारित किये गए है जिनको पूर्ण करना जरुरी है

  • कृषि क्षेत्र में पढाई करने वाली छात्राओं को ये राशि सिर्फ राजस्थान की मूल निवासी होने पर दी जाती है
  • इस योजना के तहत प्रोत्साहन राशि ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में दिया जाता है
  • राजस्थान सरकार की तरफ से चलाई जा रही छात्रवर्ती योजना का फायदा लेने के लिए छात्रा के पास खुद का बैंक अकाउंट होना जरुरी

जरुरी डॉक्यूमेंट

कृषि छात्रव्रृति का फायदा लेने के लिए कुछ दस्तावेजों की जरुरत होती है जिसकी लिस्ट निचे दी गई है

  • जन आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • जिस स्कूल या कालेज में पढ़ते है उसका प्रमाण पत्र

आवेदन कैसे कर सकते है

कृषि की पढाई के लिए मिल रही इस योजना का लाभ लेने के लिए राजस्थान की मूल निवासी कोई भी छात्रा राज किसान पोर्टल के माध्यम से इस योजना में आवेदन कर सकती है या फिर CSC और ई मित्र केंद्र से भी इसके लिए आवेदन किया जा सकता है

Leave a Comment