इंटरमीडिएट बोर्ड रिजल्ट जारी होने के बाद 9 छात्रों ने की आत्महत्या

Written by Chirag Yadav

Published on:

इंटरमीडिएट परीक्षा का रिजल्ट आने के बाद छात्रों ने बड़ा कदम उठाया। आंध्र प्रदेश राज्य के इंटरमीडिएट परीक्षा बोर्ड का रिजल्ट 27 अप्रैल को जारी हुआ था इसके बाद राज्य में एक के बाद एक छात्रों ने सुसाइड कर लिया इसके पीछे परीक्षा में असफल होना बताया जा रहा है इसके साथ ही दो छात्र ऐसे है जिन्होंने सुसाइड का प्रयास किया

आंध्रप्रदेश बोर्ड में करीब दस लाख छात्रों ने परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था और कक्षा 12 वी और 11 वी में 72 प्रतिशत और 61 प्रतिशत छात्र पास हुए है

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम क्षेत्र में रिजल्ट आने के बाद एक 17 वर्षीय छात्र ने ट्रैन के सामने कूद कर आत्महत्या कर ली , वही पर विशाखापत्तनम में एक सोलह वर्षीय छात्रा ने घर में ही फांसी लगाकर जान दे दी

कंचारपालेम में एक अठारह वर्ष छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वही पर चित्तूर जिले में दो छात्रों ने कीटनाशक पि लिया जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई जबकि एक छात्र ने अनाकापल्ली में घर में ही फांसी लगाकर जान दी है।

इसके पीछे परीक्षा में अंक कम आने और असफल होना कारण बताया जा रहा है देश के मुख्य न्यायधीश डी वाई चंद्रचूड़ ने इस मामले पर चिंता जाहिर की है उन्होंने कहा की हमारे संस्थानों में कहा पर गलत हो रहा है क्यों छात्र इतना बड़ा कदम उठा रहे है