एलआईसी (LIC) ने खेला लखपति दावं, मुट्ठी भर निवेश में झोली भरके पैसा, गारंटेड और सुरक्षित निवेश के साथ

Written by Chirag Yadav

Published on:

LIC Jeevan Pragati Plan: जिंदगी में हर कोई निवेश करता है फिर चाहे छोटे स्तर पर हो या फिर बड़े स्तर पर। इसलिए अगर आपने निवेश करने का मन बना लिया है तो फिर ये आर्टिकल आपके लिए ही लिखा गया है। इस आर्टिकल में हम आपको एलआईसी ((LIC Jeevan Pragati Plan) ) की तरफ से संचालित एक बहुत ही बेहतरीन प्लान के बारे में बताएँगे जिसमे निवेश मुठ्ठी भर करना होता है लेकिन रिटर्न झोली भर भर कर मिलता है। एलआईसी (LIC) की इस स्कीम (LIC Jeevan Pragati Plan) का नाम जीवन प्रगति स्कीम है।

एलआईसी (LIC) का जीवन प्रगति प्लान क्या है?

एलआईसी (LIC) की इस योजना (LIC Jeevan Pragati Plan) में अगर आपने निवेश कर लिया तो आपको सरकार की तरफ से और भी बहुत सारी सहायता मिलती है। एलआईसी (LIC) की इस स्कीम में निवेश करने के लिए आवेदनकर्ता की उम्र काम से काम 12 वर्ष होनी जरुरी है। और साथ में उम्र की अधिकतम सीमा 45 साल रखी गई है।

समय सीमा 20 साल और काम से काम रोजाना 200 रूपए का निवेश है। इस योजना में एलआईसी (LIC) की तरफ से रॉक को भी कवर किया जाता है। साथ में अगर पालिसी धारक की किसी भी कारण से मौत हो जाती है तो इसके लिए डेथ बेनिफिट्स की भी सुविधा दी गई है।

एलआईसी (LIC) जीवन प्रगति स्कीम की खाश बातें

एलआईसी (LIC) की जीवन प्रगति पालिसी (LIC Jeevan Pragati Plan) धारक की मौत होने या फिर अपाहिज होने पर अलग से लाभ मिलता है। मृत्यु होने की स्थिति में पॉलिसीधारक के परिवार को बिमा की मूल धनराशि का 100 फीसदी भुगतान किया जाता है। साथ में अगर पालिसी के 6 से 10 साल की समय सीमा में मृत्यु होने पर 125 फीसदी, 11 से 15 साल की समय सीमा में मृत्यु होने पर 150 फीसदी और 16 से 20 वर्ष में अगर पालिसी धारक (LIC Jeevan Pragati Plan) की किसी भी कारण से मौत होने पर 200 फीसदी का भुगतान परिवार जानो को किया जाता है। एलआईसी (LIC) की जीवा प्रगति स्कीम के मैच्योर होने पर पालिसी धारक (LIC Jeevan Pragati Plan) को 28 लाख का भुगतान किया जाता है।