रसोई गैस सिलेंडर पर मिलता है 50 लाख का बिमा, बिना किसी लागत के फ्री में, इसका लाभ कब मिलता है देखिये इसके नियम

Written by Chirag Yadav

Published on:

आज के जमाने में देश के हर घर में खाना बनाने के लिए रसोई में गैस सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आपको मालूम है की जब आप न्य कनेक्शन लेते हो तो उसी समय आपका बिमा हो जाता है और वो भी पूरे 50 लाख का। यदि आपके साथ गैस सिलेंडर के कारण कोई दुर्घटना घाट जाती है तो उसकी भरपाई इंश्‍योरेंस के द्वारा कर दी जाती है।

आपको जानकर हैरानी होगी की बहुत से लोगों को इसके बारे में पता ही नहीं है। लेकिन हम आपको बता दें की ये बिमा एक दम फ्री होता है यानि की इसके लिए आपको किसी भी प्रकार का प्रीमियम नहीं भरना होता। चलिए आगे इस आर्टिकल में एलपीजी गैस कनेक्शन के साथ मिलने वाले इस बीमा के बारे में डिटेल में बताते हैं।

कनेक्शन ले ही हो जाता है बिमा

जब आप न्य गैस कनेक्शन लेते हैं तो आपका यानि की जिसके नाम गैस कनेक्शन होता है उसको तुरंत प्रभाव से 40 लाख का बिमा कर दिया जाता है। ये बिमा गैस सिलेंडर वाली पेट्रोलियम कंपनी और बिमा करने वाली कंपनी के पहले से किये हुए कॉन्ट्रैक्ट के कारण होता है। अगर आपके साथ कोई हादसा हो जाता है तो आप बिमा की राशि के लिए क्लेम कर सकते है।

कर सकते हो 50 लाख का क्लेम

अगर गैस सिलेंडर हादसे में किसी की मौत हो जाती है तो इस परिस्थिति में 50 लाख रुपये तक का क्लेम किया जा सकता है। लेकिन आपको ये भी ध्यान रखना होगा की बिमा की रकम उसे ही मिलेगी जिसके नाम से गैस कनेक्शन है। लेकिन इसमें बिमा का लाभ लेने के लिए पेट्रोलियम कंपनी के द्वारा कुछ नियम औरशर्तें भी बनाई गई है जिनके पालन होने के बाद हीआपको बिमा की धनराशि प्राप्त हो सकती है।

बिमा राशि क्लेम करने के लिए शर्तें

एलपीजी गैस सिलेंडर के बिमा की राशि तभी आपको मिलेगी जब आपका सिलेंडर का पाइप, चूल्हा और रेगुलेटर आईएसआई (ISI) मार्क का होगा।

  • किसी कारणवश अगर हादसा हो जाता है तो आपको हादसे के 30 दिन के अंदर गैस ड्रिस्ट्रीब्यूटर और पुलिस स्टेशन दोनों जगहों पर शिकायत करनी होगी।
  • बिमा की राशि को सलाम करने के लिए आपको एफआईआर की कॉपी, मेडिकल की रसीद, हॅास्पिटल का बिल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट और डेथ सर्टिफिकेट आदि सभी कागजात की जरुरत पड़ेगी।
  • गैस सिलेंडर के साथ मिलने वाले बिमा के अंदर आप किसी भी प्रकार से कोई नॉमिनी नहीं बना सकत।
  • बिमा की राशि केवल उसी को मिलेगी जिसके नाम से कनेक्शन है।

इन बातों का भी हमेशा रखें ध्यान

जब भीआप रसोई गैस सिलेंडर लेते है तो हमेशा उसकी एक्सपायरी डेट देखने के बाद ही उसको घर लेकर आएं। गैस सिलेंडर के साथ मिलने वाला बिमा सिलेंडर की एक्सपायरी डेट के साथ में लिंक होता है। सिलेंडर पर एक्सपायरी डेट एक कोड के रूप में लिखी रहती है जो की सिलेंडर के ऊपरी हिस्से की तीन पट्टियों पर A-24, B-25, C-26 या D-27 के तौर पर लिखी हुए आपको मिलेंगी। यहाँ इसमें ABCD को महीनो के रूप में दर्शाया जाता है। यानि की A का मतलब जनवरी, फरवरी और मार्च होता है। ऐसी तरफ से B का मतलब अप्रैल मई और जून होता है। ऐसी तरफ से तीन तीन महीनो को कोड के रूप में लिखा जाता है। इसके अलावा जो नंबर लिखे होते है उसका मतलब साल से होता है यानि की अगर सिलेंडर पर D23 लिखा है इसका मतलब ये सिलेंडर साल 2023 के अक्टूबर, नवम्बर और दिसंबर महीने का है।