Post Office Paisa Double Scheme – डाकघर की नई स्कीम, निवेशकों की हो गई मौज, 5 महीने में पैसा डबल

Written by Chirag Yadav

Published on:

Post Office Paisa Double Scheme – डाकघर कई लघु-स्तरीय बचत योजनाएं संचालित करता है। इस कार्यक्रम को किसान विकास पत्र के नाम से जाना जाता है। वित्त मंत्रालय ने नाटकीय रूप से किसान विकास पत्र पर ब्याज दर में 30 आधार अंकों की बढ़ोतरी की है। KVP पर अब तक 7.2% ब्याज मिल रहा था। वर्तमान में इसे बढ़ाकर 7.5% कर दिया गया है। नई ब्याज दर 1 अप्रैल 2023 से 30 जून 2023 के बीच प्रभावी होगी।

5 महीने में डबल होगा पैसा

वित्त मंत्रालय ने आज छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर में बदलाव किया। नई दर वित्त वर्ष 2023-2024 की पहली तिमाही के लिए लागू है। मंत्रालय द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, किसान विकास पत्र पर ब्याज दर 7.2% से बढ़कर 7.5% हो जाएगी। ब्याज दर में बदलाव से निवेशकों का पैसा अब 115 महीनों में दोगुना हो जाएगा। इससे पहले तक, कंपनी हर 120 महीनों में निवेशकों के धन को दोगुना कर रही थी। बता दें कि केवीपी एक बार निवेश का अवसर है।

कम से कम 1000 रुपये जमा

पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक किसान विकास पत्र के ब्याज की गणना सालाना चक्रवृद्धि के आधार पर की जाती है। 100 रुपये के गुणकों में कम से कम 1000 रुपये जमा करना संभव है। एक निवेशक अपने नाम पर अनंत संख्या में केवीपी खाते बना सकता है। इस कार्यक्रम में निवेश धारा 80सी कर लाभ प्रदान नहीं करता है। इसके अलावा, रिटर्न पूरी तरह से कर योग्य हैं। परिपक्वता तिथि के बाद की गई निकासी पर टीडीएस नहीं काटा जाता है।

ब्याज दरों को 8% से बढ़ाकर 8.2% कर दिया गया

वित्त मंत्रालय की एक प्रेस विज्ञप्ति (1 अप्रैल 2023 से 30 जून 2023) के अनुसार, वरिष्ठ नागरिक बचत योजनाओं पर अगली तिमाही की ब्याज दरों को 8% से बढ़ाकर 8.2% कर दिया गया है। मंथली इनकम अकाउंट यानी MIS स्कीम की ब्याज दरें 7.1% से बढ़ाकर 7.4% कर दी गई हैं.

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर ब्याज दर 7 फीसदी से बढ़कर 7.7 फीसदी हो गई है. यह सबसे बड़ी वृद्धि है। पीपीएफ पर ब्याज दर 7.1 फीसदी पर कायम है. किसान विकास पत्र पर ब्याज दर 7.2% से बढ़ाकर 7.5% कर दी गई है। सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याज दरें 7.6% से बढ़ाकर 8% कर दी गई हैं।

Leave a Comment