पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम ने मचाया बवाल, लोगों की लगी लाइन, निवेश पर मिल रहे है 1 करोड़ 3 लाख

Written by Chirag Yadav

Published on:

Post Office Crorepati Scheme – आज के दौर में 10, 20, 100, 200 रुपए का महत्व बहुत ही कम लगता है। लोग समझते है की ये कुछ भी नहीं है और बढ़ती महंगाई के बीच स्मॉल सेविंग्स स्कीम (small savings schemes) ज्यादा नहीं लगती है। लेकिन, यह निवेश की पहली गलती है। आपको पता होना चाहिए की छोटी छोटी बचत (small savings) ही आगे चलकर बड़े सपने पूरे करती है। अगर आपके पास रोजाना 200 रुपये ही बचते हैं तो महीने के 6000 रुपये होते हैं। लेकिन अब आज के समय में इस 6000 रुपए को 1 करोड़ रुपए में भी बदला जा सकता है।

ये आपको सुनने में अजीब लगेगा लेकिन ऐसा मुमकिन है। आप रोजाना 200 रुपये बचाते हैं और इसे हर महीने पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (Public Provident Fund) जैसी स्कीम में निवेश करते हैं। 20 साल बाद आपके पास करीब 32 लाख रुपए होंगे। आपको बता दें की पीपीएफ (Public Provident Fund) लंबी अवधि की बचत योजना है। इस पर 7.1 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग के हिसाब से ब्याज मिल रहा है। अब यहीं से शुरू होती है आपके करोड़पति बनने की यात्रा।

पोस्ट ऑफिस में करें Public Provident Fund में निवेश

डाकघर (post office) में, आपको सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (Public Provident Fund) खोलने का विकल्प मिलेगा। खाता खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम जमा (minimum deposit) राशि केवल 500 रुपये है। आपके द्वारा प्रति वर्ष 1.50 लाख रुपये तक की जमा राशि पर कर का भुगतान करने से आपको छूट प्राप्त होती है। 15 साल बीत जाने के बाद खाते को परिपक्व (matured) माना जाएगा। लेकिन, मैच्योरिटी पर पहुंचने के बाद इसे पांच से लेकर अगले पांच साल के दायरे में और बढ़ाया जा सकता है।

Public Provident Fund में 200 रुपए से मिलेंगे 32 लाख रुपए

यदि हम प्रतिदिन 200 रुपये बचाते हैं तो हम प्रत्येक महीने के अंत में 6000 रुपये बचा लेंगे। इसलिए, हर महीने अपने पीपीएफ खाते (PPF account) में 6,000 रुपये डालें और यदि आप 20 साल तक ऐसा करते हैं, तो खाता परिपक्व होने पर आपके खाते में 31,959,984 रुपये होंगे। गणना 7.1% की वार्षिक ब्याज दर के आधार पर की गई थी। अगर ब्याज दर में बदलाव होता है तो मैच्योरिटी राशि (maturity amount) भी शिफ्ट हो सकती है। पीपीएफ खातों पर कंपाउंडिंग हर साल एक बार होती है। ब्याज दर का विश्लेषण हर तीन महीने में एक बार किया जाता है।

Public Provident Fund में कब और किसे मिलेगा फायदा?

मान लीजिए आपकी उम्र 25 है और आपकी 30-35 हजार मंथली इनकम है. शुरुआत के दिनों में आप पर ज्‍यादा लायबिलिटी (liability) नहीं रहती है, ऐसे में रोज 200 रुपए की बचत करना आसान है. इस तरह, आपकी 45 साल की उम्र होने पर PPF (Public Provident Fund) से आपको करीब 32 लाख रुपए का फंड मिल सकता है.

Public Provident Fund में निवेश के फायदे

PPF अकाउंट खुलवाने के कई फायदे हैं. सबसे बड़ा फायदा आपको टैक्‍स सेविंग (Tax Savings) में होगा. ऐसा इसलिए क्‍योंकि Public Provident Fund में 1.50 लाख रुपए सालाना के डिपॉजिट पर 80C के तहत टैक्‍स छूट ले सकते हैं. इसमें मैच्‍योरिटी और ब्‍याज की इनकम भी टैक्‍स फ्री होती है.

कैसे होगी Public Provident Fund पर Interest की कैलकुलेशन

गौर करिएगा, PPF अकाउंट (Public Provident Fund Account) में महीने की 5वीं तारीख तक जो रकम होती है, उस पर ब्याज जुड़ता है. इसलिए महीने की 5 तारीख का ध्यान रखें और उसके पहले अपना मंथली योगदान कर दें. इसके बाद अगर खाते में पैसा आता है तो उसी रकम पर ब्याज जुड़ेगा, जो 5 तारीख के पहले खाते में जमा (deposited) की गई हो.

कैसे मिलेंगे 1 करोड़ रुपए?

Public Provident Fund की मैच्योरिटी 15 साल की होती है. हर महीने अधिकतम 12,500 रुपए जमा किए जा सकते हैं. मतलब सालाना 1.5 लाख रुपए जमा हो सकते हैं. मैच्योरिटी तक हर महीने की 5 तारीख तक 12500 रुपए का योगदान करना होगा. 7.1% सालाना ब्याज के हिसाब से मैच्योरिटी (maturity) पर कुल वैल्यू 40,68,209 रुपए होगी. Public Provident Fund खाते को मैच्योरिटी के बाद 5-5 साल एक्सटेंड करने का भी ऑप्शन है. ऐसे में 25 साल तक योगदान जारी रहने पर कंपाउंडिंग ब्याज से आपका निवेश 1.03 करोड़ रुपए बन जाएगा. नीचे देखिए कैलकुलेशन

Public Provident Fund की मैच्योरिटी पर कितना मिलेगा?

अधिकतम मंथली जमा: 12,500 रुपए
ब्याज दर: 7.1 फीसदी सालाना
15 साल बाद मेच्योरिटी पर रकम: 40,68,209 रुपए
कुल निवेश: 22,50,000 रुपए
ब्याज का फायदा: 18,18,209 रुपए

पोस्ट ऑफिस में कैसे बनेंगे 1 करोड़ कैसे बना?

अधिकतम मंथली जमा: 12,500 रुपए
ब्याज दर: 7.1 फीसदी सालाना
25 साल बाद मेच्योरिटी पर रकम: 1.03 करोड़ रुपए
कुल निवेश: 37,50,000 रुपए
ब्याज का फायदा: 65,58,015 रुपए