Sahara Investor Refund News – 5000 करोड़ हुये जारी, 10 करोड़ सहारा इन्वेस्टर को वापस मिलेंगे पैसे, इस दिन आयेंगे खाते में पैसे

Written by Chirag Yadav

Published on:

Sahara Investor Refund News – सहारा ग्रुप (Sahara Group) की 4 कोऑपरेटिव सोसाइटीज के इन्वेस्टर के लिए सुप्रीम कोर्ट की तरफ से अच्छी खबर निकल कर सामने आ रही है। सुप्रीम कोर्ट ने 5000 करोड़ की धनराशि जारी कर दी है। ये पैसे सहारा के इन्वेस्टरों को अगले 9 महीने के अंदर लौटा दिए जायेंगे।

सहारा ग्रुप (Sahara Group) के इन्वेस्टरों को पैसा लौटने का काम भी सुप्रीम कोर्ट के जज की निगरानी में किया जायेगा। इस काम के लिए सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस आर सुभाष रेड्डी देखरेख करेंगे और इनकी निगरानी में ही सहारा ग्रुप (Sahara Group) की 4 क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटीज में पैसा लगाने वाले इन्वेस्टरों को अगले 9 महीने के अंदर उनका सारा पैसा लौटा दिया जायेगा। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को 5000 करोड़ की धनराशि जारी करते हुये इसके आदेश दिए हैं।

सोसाइटीज की स्कीम्स में लोगों ने लगाए थे करोड़ों रूपए

Sahara Investor Refund News – देश के करोड़ों इनवेस्टर्स ने सहारा ग्रुप (Sahara Group) की चार क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटीज की स्कीम्स में पैसे कई लाख करोड़ रूपए लगाए थे। सहारा ग्रुप (Sahara Group) की ये चार सोसाइटीज में पहली सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, दूसरी सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड, तीसरी हमारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और चौथी स्टार्स मल्टीपर्पज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड के नाम से हैं। सहारा ग्रुप (Sahara Group) की ये सभी सोसाइटीज 2010 के मार्च से से लेकर 2014 के जनवरी महीने के बीच मल्टी-स्टेट को-ऑपरेटिव सोसाइटीज एक्ट 2002 के तहत रजिस्टर्ड की गई थीं। बाद में इन सोसाइटीज में पैसा जमा करने वाले लोगों ने बड़ी संख्या में डिपॉजिट्स का भुगतान न किए जाने की शिकायतें की थीं। और इन्ही शिकायत के आधार पर सहारा ग्रुप (Sahara Group) पर सेबी ने कार्यवाही की थी।

सेबी-सहारा रिफंड अकाउंट में जमा है 24000 करोड़

Sahara Investor Refund News – सेबी-सहारा रिफंड खाता (SEBI-Sahara Refund Account) अगस्त 2012 में स्थापित किया गया था, जब सुप्रीम कोर्ट ने सहारा समूह की दो कंपनियों, सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Sahara India Real Estate Corporation Limited) और सहारा हाउसिंग इंडिया कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Sahara Housing India Corporation Limited) को वैकल्पिक रूप से निवेशकों का पैसा लौटाने की अनुमति दी थी। पूरी तरह से परिवर्तनीय बांड (OFCB)। आदेश के बाद सहारा ने इस खाते में 15,000 करोड़ रुपये से अधिक जमा किए, जो अब ब्याज सहित 24,000 करोड़ रुपये हो गया है.

138 करोड़ रुपए रिफंड

Sahara Investor Refund News – उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति बीएन अग्रवाल को अदालत ने रिफंड प्रक्रिया (refund process) की निगरानी के लिए नियुक्त किया था। दिसंबर 2022 तक कुल 138 करोड़ रुपये वापस किए जा चुके हैं, खाते में 23,937 करोड़ रुपये शेष हैं। केंद्र सरकार के आवेदन के मुताबिक सेंट्रल रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसाइटी (cooperative society) ने जून 2022 तक 1.21 लाख दावे फॉरवर्ड किए हैं। ये दावे सहारा ग्रुप की चार कंपनियों के हैं, जिनकी कुल लागत 375 करोड़ रुपये है। वहीं, सहारा समूह ने 4500 से अधिक लोगों को भुगतान करने का दावा किया है, जिसमें 1.17 लाख दावे अभी भी लंबित हैं।

Leave a Comment