SBI की ‘इस’ स्कीम में मिलता है बेहतरीन ब्याज, एक बार निवेश किया तो घर बैठे होगी हर महीने बम्पर कमाई

Written by Chirag Yadav

Published on:

SBI Best Regular Income Scheme – स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) पर देश के लोग सबसे ज्यादा भरोसा करते हैं और यही कारण है की ज्यादातर लोग अपनी बचत को State Bank of India की अलग अलग बचत योजनाओं में निवेश करते है। सुरक्षित निवेश और गारंटीशुदा रिटर्न (guaranteed returns) के लिहाज से स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (State Bank of India) की ये स्कीमें बेहतर बताई जा रही हैं। अगर आप निवेश करने के बारे में सोच रहे है और आप किसी ऐसे प्लान की तलाश में हैं, जहां एक बार निवेश करने पर आपको रेगुलर एक फिक्स्ड इनकम मिलती रहे तो SBI (State Bank of India) का Annuity Deposit Plan आपके लिए बेहतरीन प्लान साबित हो सकता है क्योंकि ये आपको रेगुलर इनकम के साथ सुरक्षा की भी गारंटी देता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की एसबीआई (State Bank of India) की इस योजना में आपको एकमुश्त राशि जमा करनी होगी। इसके बाद आपको हर महीने ब्याज के साथ एक निश्चित आय (fixed income) मिलने लगती है। एसबीआई (State Bank of India) की वार्षिकी जमा योजना में ग्राहक को हर महीने मूल राशि के साथ ब्याज का भुगतान किया जाता है। इसके साथ ही आपके खाते में जमा राशि पर चक्रवृद्धि ब्याज (compound interest) की गणना प्रत्येक तीन महीने में एक बार की जाती है जिसका भी फायदा ग्राहकों को मिलता है।

एसबीआई (State Bank of India) की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार आपको बचत खाते की तुलना में वार्षिकी जमा योजना (Annuity Deposit Scheme) के तहत जमा राशि पर अधिक ब्याज दिया जाता है। वहीं, इस स्कीम में डिपॉजिट पर बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट (fixed deposit) जितना ही ब्याज मिलता है। इस योजना में अधिकतम जमा की कोई सीमा नहीं है। साथ ही, मासिक वार्षिकी के अनुसार न्यूनतम जमा राशि (minimum deposit amount) कम से कम 1000 रुपये होनी चाहिए। इसमें आपको बैंक की ओर से एक यूनिवर्सल पासबुक (Universal Passbook) भी जारी की जाएगी। इस योजना में 36, 60, 84 या 120 महीने के लिए निवेश किया जा सकता है।

अधिक रूपए निकालने की सुविधा

इस योजना में वार्षिकी का भुगतान जमा करने के बाद अगली निर्धारित तिथि से किया जायेगा। यदि वह तारीख किसी महीने में नहीं है, तो वार्षिकी अगले महीने की तारीख को अर्जित होगी। एन्युटी का भुगतान टीडीएस काटकर लिंक्ड बचत खाते (linked savings account) या चालू खाते में जमा करने के बाद किया जाएगा। एसबीआई (State Bank of India) के इस प्लान को आपात स्थिति में भी आपकी जरूरतों का पूरा ख्याल रखते हुए डिजाइन किया गया है। यदि आवश्यक हो, तो आप वार्षिकी शेष राशि का 75 प्रतिशत तक ओवरड्राफ्ट (overdraft) कर सकते हैं।

कैसे कर सकते हैं स्कीम में निवेश?

अगर आप एसबीआई की वार्षिकी जमा योजना (Annuity Deposit Scheme) में निवेश करना चाहते हैं, तो आप नजदीकी शाखा में पंजीकरण करा सकते हैं। यह योजना एसबीआई (State Bank of India) की सभी शाखाओं में उपलब्ध है। योजना खाते को एक बैंक शाखा से दूसरी शाखा में भी स्थानांतरित किया जा सकता है। इसमें व्यक्तिगत नामांकन की सुविधा उपलब्ध है। यह खाता एकल या संयुक्त (single or joint) हो सकता है। जमाकर्ता की मृत्यु के मामले में योजना को समय से पहले समाप्त किया जा सकता है।