गेहू की कीमतों पर लगेगा ब्रेक, गेहू की बम्पर आवक होने से रेट हुए कमजोर, जानिए पूर्ण रिपोर्ट

Written by Chirag Yadav

Published on:

गेहू की फसल की कटाई पूर्ण होने को है और किसान गेहू की फसल को मार्किट में ला रहे है इससे मंडियों में गेहू की आवक बढ़ गई है और आगामी दिनों में गेहू की बम्पर आवक देखने के लिए मिल सकती है। देश की मंडियों में आगामी दिनों में प्रतिदिन 25 हजार मीट्रिक टन गेहू की आवक देखने के लिए मिल सकती है। सरकार की तरफ से तेजी से गेहू की खरीद का कार्य शुरू हो चूका है 4 राज्य संचालित एजेंसी गेहू की खरीद का कार्य देख रही है जो की डिलीवरी का 64 प्रतिशत गेहू की फसल की खरीद करती है

अब तक मंडियों में 5 हजार मीट्रिक टन गेहू की फसल पहुंच चुकी है। और आने वाले दिनों में मंडियों में गेहू की आवक बढ़ने वाली है। सोमवार को पनग्रेन, पुनसुप , मार्कफेड और पंजाब वेयर हाउस कॉर्पोरशन की तरफ से 2,534 मीट्रिक टन गेहू की खरीद की गई है लेकिन अभी तक FCI की तरफ से खरीद का कार्य शुरू नहीं किया गया है

मंडियों में इस सीजन में निजी व्यापारियों के द्वारा अब तक करीब 62 मीट्रिक टन गेहू की खरीद की जा चुकी है सरकारी एजेंसी में PWC के द्वारा अब तक 847 मीट्रिक टन , मार्कफेड की तरफ से 841 मीट्रिक टन , पनग्रेन की तरफ से 835 मीट्रिक टन और पुनसुप की तरफ से 648 मीट्रिक टन गेहू की खरीद की गई है

उत्तर प्रदेश मंडी बोर्ड गेहू खरीद

यूपी सरकार की तरफ से किसानो की गेहू की फसल को MSP पर खरीद को मंजूरी मिल चुकी है और इस साल कैबिनेट ने 2023 से 2024 वित्तीय वर्ष में 60 लाख मीट्रिक टन गेहू की खरीद का लक्ष्य रखा गया है। सरकार की तरफ से न्यूनतम गेहू खरीद मूल्य 2125 रु प्रति किवंटल रखा गया है

Leave a Comment